आ बैल मुझे मार

क्या आपने ऐसे लोग देखे है जो इस कहावत को आक्षरषः चरितार्थ करते है । ऐसे ही किरदार की कहानी है ये जो जानबूझकर मुसीबतो को अपने गले में डालता था ।

One thought on “आ बैल मुझे मार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>