डायन

Dayanएक औरत के पति की मृत्यु हो गई । उसकी बुद्धि भ्रष्ट हुई तो पति को
जिन्दा करने क लिए दूसरों के बच्चों की बलि देने लगी । पर उसे मालूम नहीं था
कि किसी की आँखें सपनो में उसकी करतूते देख रही है । फिर सपने देखने वाले
और उस औरत क बीच जंग शुरू हुई, मगर ये तो सिर्फ बहन था, असली जंग
तो माता दुर्गा और डायन क बीच थी और जब माँ जगदम्बा अपने रौद्र रूप में आई
तो काली शक्तियों क चहेरे सफ़ेद पद गए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>