शिखंडी

sikhandiकत्ल हुआ नहीं और वकील कथित हत्यारे को सजा की वकालत कर रहा था ।
क्या इस केस की यही विचित्रता थी या फिर कोई और ? कानून ने क्या जवाब दिया इस केस पर ? और क्या हुआ न्याय? इन सवालो के जवावो का पिटारा है – शिखंडी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>